ईसाईओं के धर्म ग्रंथ ‘ बाइबल ‘ से जुड़े 13 हैरान कर देने वाले तथ्य

bible ki kahani

1 To 5 Facts About Bible In Hindi

1. बाइबल ईसाई धर्म की सबसे प्रमुख पुस्तक है। इस पुस्तक को ईसा मसीह के बाद उनके शिष्यों द्वारा लिखा गया था।

2. बाइबल में ईसा मसीह की जीवनी, उनके उपदेश और उनके शिष्यों के किए गए काम लिखे गए हैं। इसमें कई मिथक कथाओं का भी वर्णन है।

3. माना जाता है कि बाइबल इतिहास से लेकर वर्तमान तक, सबसे ज्यादा बिकने वाली पुस्तक है, एक अनुमान के अनुसार इसकी करीब 500 करोड़ Copies की बिक्री हो चुकी है।

4. वर्तमान समय में बाइबल 2400 से ज्यादा भाषाओं में उपलब्ध है।

5. China में बाइबल की सबसे ज्यादा Copies त्यार की जाती हैं।

6 To 10 Facts About Bible In Hindi

6. बाइबल में बाइबल की कस्म खाने की मनाही की गई है। इसी वजह से भारतीय अदालतों में किसी ईसाई को गवाही देने से पहले बाइबल की कस्म नही दिलाई जाती।

7. उत्तर कोरिया में अगर किसी के पास से बाइबल बरामद हो जाए तो उसे मौत की सजा दी जा सकती है।

8. बाइबल में ईसा मसीह की शारीरिक बनावट और रंग-रूप का कोई वर्णन नही मिलता है।

bible ki kahani

9. Dominican Republic (डोमिनिकन रिपब्लिक) एकलौता देश है, जिसके झंडे में बाइबल अंकित है।

10. बाइबल की एक कहानी के अनुसार भगवान ने 2 भालुओं को 42 बच्चों को सिर्फ इसलिए मारने के लिए भेजा था क्योंकि वो एक आदमी का गंजे होने के कारण मज़ाक उड़ा रहे थे।

11 To 13 Facts About Bible In Hindi

11. इस्लाम के अनुसार बाइबल एक मार्ग भटकाने वाली पुस्तक है और कुरान इसकी गलतियों को सही करती है।

12. 17वीं सदी के युरोप में डायनासोरों के कंकालों को लेकर यह बात मानी जाती थी कि यह उन्हीं राक्षशों के अवशेष है जिनका वर्णन बाइबल में किया गया है।

13. बाइबल के अनुसार सारी पृथ्वी और इस पर जीने वाले सारे प्राणियों की रचना ईश्वर ने 6 हज़ार साल पहले की थी।

See More Facts in Hindi

बाइबल से जुड़े यह 13 रोचक तथ्य आपको कैसे लगे, कमेंटस के माध्यम से जरूर बताइएगा।

36 thoughts on “ईसाईओं के धर्म ग्रंथ ‘ बाइबल ‘ से जुड़े 13 हैरान कर देने वाले तथ्य”

  1. बाइबल वास्तव में 66 पुस्तकों की एक लाइब्रेरी है, जो लगभग 1500 वर्षों की अवधि में 44 लेखकों द्वारा लिखी गई है।
    पुराने नियम की 39 पुस्तकों की रचना 1400 और 400 ईसा पूर्व के बीच की गई थी, और ईसा पश्चात 50 और ईसा पश्चात 100 के बीच नए नियम की 27 पुस्तकें लिखीं गई थीं।
    बाइबल के लेखकों ने पवित्र आत्मा से प्रेरित होकर ईन सब पुस्तकों कों लिखा था।

    Reply
  2. Bible sahi isliye h kyu usme Jo likha h wo aaj bhi hota h yeshu ke nam se rogi change note the to aaj bhi hota h uske nam se ya samarth se murde ji uthte the or dustaatma nikale jaye the to aaj bhi hota h ye koi kahani nhi hakikat h or bhi inse bade kam or bat h Jo parmeshwar ki daya or uspar wishwas se Jana or paya ja sakta h

    Reply
  3. आपसे एक सवाल है
    क्या सुर्य देव चंद्र देव भगवान है
    मुझे जानना था जवाब मिलेगा
    कोई भी उत्तर दे सकता है
    और शाहिल कुमार जी आपसे तो उत्तर चाहिए ही
    please

    Reply
    • बिलकुल जवाब मिलेगा गौरव जी आपको। हिंदू धर्म में 33 प्रकार (कोटि) के देवता माने गए हैं। उनमें से सूर्य और चंद्रमां को भी देवता ही माना गया है।

      Reply
    • Jankari ke liye bible ka bus pahila Panama chapter padhe ye sub permeshwer me din aur raat insan ki zarurat ke liye banaya hay aur din, raat waat ke halat ke bare me batane ke liye jaise chand aur Tara ye ek nishani ke dor pe. Jaise ki aaj hum ghadi dekhker samai ka pata lagate hay vaise un dino me log ye sub chez dekhker pata lagate the ki ammavas kab hay ya din khonsa chal raha hay

      Reply
  4. Nice sir ji….main 12 th ka student hun…main v internet me kai dharmon ka truti pad liye h… Bahut accha website h..thanks sir

    Reply
  5. साहिल कुमार जी, आपके पेज पर इतनी रोचक और तथ्यसिद्ध जानकारियां हैं कि आने के बाद जाने का मन नहीं करता है। धन्यवाद इन सभी जानकारियों के लिए।

    Reply
  6. 2 कोण से मिथक हे सही से बताये
    १० जिस व्यक्ति की वो मजाक उड़ा रहे थे वो परमेश्वर का नवी था
    11 कुरान कोण सी गलती को सुधारती हे वो भी सही से बताओ फालतू में कुछ ना लिखो

    Reply
  7. राजाओ की पुस्तक में लिखा हे अलीशा का बच्चे मजाक उड़ा रहे थे और बहुत परेशानकर रहे थे तो दो रीछ ने आकर ४२ बच्चो को मार दिया

    Reply
  8. Sir mera yeah kehna hai ki sabse pehle World main john Gutenberg ke dwara bible print hua to baat yeah hai ki bible ko najar andaj kyon kiya ja raha hai, bible ek pustak nahin hain haie, parmeswar ki diya hua hum logogon ke liye sambhidhan Jo ki palan Kare ,it’s not a book it’s a daily bread of our life, first Jesus Christ then other next.

    Reply
    • मैं अपने ब्लॉग पर कुछ कहना नहीं चाहता। बेहतर होगा कि आप इंटरनेट पर सर्च कर लें।

      Reply
  9. Sahil kumar ko bible ki thoda si bhi jaankari nhi he par btane chale he bible ke bare me aise bhut se manbudhi log he jo kuch bhi post kardete he aise log ko ignor kar dena chahiye….

    Reply
  10. Bilkul sahi he, dinosaur ka jikra bible ki ” ” “ayub” ki pustak me kiya gaya he,
    Aur jo logo ne kabhi kuran ya geeta ya koi granth nahi padha wo kaise keh sakye he ki bible galat he,
    Kyu ki bible 2400 se jyada bhasa me translated book he

    Reply
    • अरे भाई खुद बाइबल वाले अपनी गलतियों के लिए पचास बार माफ़ी मांग चुके हैं, तो फिर ये डायनासोर कहां से आ गए जबकि बाइबल के अनुसार पृथ्वी सिर्फ 6 हज़ार साल पुरानी है।

      Reply
    • Traditionally, religion in North Korea primarily consists of Buddhism and Confucianism and to a lesser extent Korean shamanism and syncretic Chondogyo. Since the arrival of Europeans in the 18th century, there is also a Christian minority.

      Reply
  11. Quran ek Allah ka bheja hua kalam hai Aur bible ko uske sisya ne likha hai isliye Quran bible k galtiyo ke sabut dete hai. Jo baat sabit ho jaye use galat hi manna chahiye isliye musalman bible k kuchh term ko galat batate hai na ki bible ko.

    Reply
  12. 6000 साल पहले भगवान ने इंसानो को बनाया है
    क्या बकवास है में यदि हिंदू किताबो की बात न कर के भी वैज्ञानिक बात कहु तो भी इंसानों को पैदा हुए लाखो साल हो गए है।।
    बकवास।।
    इसे पुराना तो मेरी जाती का इतिहास है।

    Reply
  13. jitni jankari batayi h sab galat h…bible ko janne ke liye bible padhna jaruri h..koi insan nhi bata sakta ki khuda kaisha h..balki hame khud uski hujuri me bathna jaruri h..ok

    Reply
  14. तब उसने पीछे की ओर फिर कर उन पर दृष्टि की और यहोवा के नाम से उन को शाप दिया, तब जंगल में से दो रीछिनियों ने निकल कर उन में से बयालीस लड़के फाड़ डाले। ~ 2 राजा 2 : 24

    Reply
  15. Kuch khas jankari to nahi mila ese padkar aisa to nahi lagta ki likhi hui sari baten sahi hai par kuch bat sahi ho sakta hai….

    Reply
    • सुखराम जी ऐसा करिए, जो बात आपको गलत लगती है उसके बारे में बताएं, फिर हम आपको उत्तर देगें।

      Reply
  16. Sir i want to know kya bible mei jo yajak aour dhram guru log itni viwah karthe the our . Yeh seresthageet ki pustak mei jo likhi hai wo kya hai.

    Reply
    • मेनका जी मुझे बाइबल की कोई ख़ास जानकारी नही है। आप इंटरनेट पर सर्च करके हिंदी में बाइबल पढ़ सकते है।

      Reply
  17. Old testament. Or purana niyam me 2rajaonke2:23 me bachhe aur bhalu ke bare me bataya gaya hai jisme bhalu ko richhinio kahan gaya hai

    Reply
    • भालुओं वाली बात बिल्कुल गलत है जो बच्चों को मारा गया है कोई साबित करके दिखाएं मैंने बाइबल को पड़ा है पूरा

      Reply
    • यह बाइबल के 2:23 और 2:24 में बताया गया है।

      23. Then he went up from there to Bethel; and as he was going up by the way, young lads came out from the city and amocked him and said to him, “Go up, you baldhead; go up, you baldhead!”

      24. When he looked behind him and saw them, he acursed them in the name of the Lord. Then two female bears came out of the woods and tore up forty-two lads of 1their number.

      Reply
    • यह पवित्र शास्त्र बाइबल को गलत दिशा दे रहे हैं यह कहानी बिल्कुल गलत है ऐसा कुछ भी नहीं है हमारे पवित्र शास्त्र में परमेश्वर इन को माफ करें और इन्हें इनके मन के पाप क्षमा करें यीशु के नाम है Amen.

      Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!