लोहे से जुड़ी 15 मज़ेदार जानकारियाँ और आंकड़े | Iron in Hindi

iron in hindi

Metal (धातु) Iron
Symbol (संकेत) Fe
Atomic Number (परमाणु संख्या) 26
Atomic Mass (परमाणु भार) 55.84
Melting Point (गलनांक) 1539 °C
Boiling Point (क्वथनांक) 2862 °C
Density (घनत्व) 7.86 g/cm³

लोहे से जुड़ी 15 मज़ेदार जानकारियाँ और आंकड़े – Iron in Hindi

1. लोहा बहुत ही महत्वपूर्ण धातु है जिसका उपयोग मनुष्य पिछले 5 हज़ार साल भी ज्यादा समय से करता आ रहा है।

2. लोहे का परमाणु चिन्ह ‘Fe’ है जो लातीनी भाषा के शब्द ‘Ferrum’ से आया है।

3. लोहा धरती में चौथा सबसे ज्यादा मात्रा में पाया जाने वाला तत्व है। धरती की पेपड़ी का 5.6% हिस्सा लोहे से बना है जबकि कोर (core) सारी की सारी लोहे से बने हुई है।

4. लोहा ब्रह्माण्ड में 6वां सबसे ज्यादा पाया जाने वाला तत्व है।

5. लोहे का सबसे ज्यादा उपयोग Steel (इस्पात) बनाने के लिए किया जाता है। Steel बनाने का तरीका मनुष्य को कोई 3000 हज़ार साल पहले ही पता लग गया था।

6. बढ़िया स्टील शुद्ध लोहे से 1000 गुणा ज्यादा मज़बूत होता है।

7. मेसोपोटामिया (इराक) में इस बात के प्रमाण हैं कि लोग ईसा पूर्व 5000 के आसपास लोहे को गलाने लगे थे। मिस्र और मेसोपोटामिया में लगभग 3000 ईसा पूर्व से स्मेल्टेड लोहे से बने कलाकृतियों को पाया गया है।

8. भारत में ईसा से कई सदियों पहले लोहे से इससे इस्पात बनाने की जानकारी थी। लगभग 2 हज़ार साल पहले भारत से लोहा और इस्पात यूरोप तथा अफ्रीकी देशों को भेजा जाता था।

9. 2500 साल पहले बनी भारत की इस्पात की तलवारें ईरान आदि देशों में विख्यात थी। ईरानियों तथा अरबों ने इस्पात पर पानी चढ़ाने (tempering) की कला को भारत से ही सीखा था। Tempering इस्पात को गर्म करके उसे और मज़बूत बनाने की क्रिया को कहते हैं।

qutub minar in hindi
लौह स्तंम्भ

10. दिल्ली में विष्णुस्तंभ (किताबों के अनुसार कुतुबमीनार) के सामने 1600 साल पहले बने लौह स्तम्भ के बारे में पूरी दुनिया जानती है। यह स्तम्भ राजा चंद्रगुप्त विक्रमादित्य के काल में खगोल-शास्त्री वराहमिहिर की देख रेख में बना था। 6 हज़ार किलो के इस स्तम्भ को इतनी कुशलता से बनाया गया है कि इतना समय गुज़र जाने पर भी इस पर जंग नही लगी।

11. विष्णुस्तंभ के पास इस लोहे के स्तम्भ में 99.72% लोहा है। वैज्ञानिक इस बात पर हैरान होते है कि इतना लंबा चौड़ा स्तम्भ किस प्रकार बनाया गया होगा? क्योंकि आज भी इतना विशाल स्तम्भ बनाना आसान काम नही है।

12. लोहा जब नमी और ऑक्सीजन के संपर्क में आता है तो इसे जंग लगना शुरू हो जाता है।

13. खदानों से प्राप्त होने वाले लोहे को कच्चा लोहा (Iron Ore) कहते है और यह पूरी तरह से शुद्ध नही होता। कच्चे लोहे की चार किस्में हैं जिन में अलग – अलग मात्रा में शुद्ध लोहा होता है।

Types of Iron Ore in Hindi
कच्चे लोहे का प्रकार शुद्ध लोहा रंग
Magnetite 72% Black Bright
Haematite 69% Black
Limonite 60% Yellow
Siderite 45% Yellow-Brown

14. संसार में ज्यादातर हैमेटाइट (Haematite) किस्म का कच्चा लोहा निकाला जाता है। किसी भी किस्म के कच्चे लोहे का उत्पादन करने वाले 10 सबसे बड़े देश यह रहे-

Top Ten Iron Ore Producing Countries
Country Production (In Crore Tonnes)
China 150
Australia 66
Brazil 32
India 15
Russia 10.5
Ukraine 8.2
South Africa 7.8
U.S.A 5.8
Iran 4.5
Canada 4.1

15. जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि लोहे का सबसे ज्यादा उपयोग स्टील बनाने के लिए किया जाता है। दुनिया में स्टील का सबसे ज्यादा उत्पादन करने वाले 10 देश यह रहे-

Top Ten Steel Producing Countries
Country Prouction (In Crore Tonnes)
China 82.3
European Union 16.2
Japan 11.0
U.S.A 8.8
India 8.6
Russia 7.1
South Korea 7.1
Germany 4.2
Turkey 3.5
Brazil 3.4

दोस्तो कमेंट करके जरूर बताइएगा कि लोहे के बारे में यह रोचक जानकारियाँ और आंकड़े कैसे लगे? Thanks.

More Metal Facts in Hindi

24 thoughts on “लोहे से जुड़ी 15 मज़ेदार जानकारियाँ और आंकड़े | Iron in Hindi”

    • Check their composition and microstructure.

      304 stainless steels are 18/8 grades. They have 18–20% chromium and 8–10% nickel approximately. But 202 grades will have 4–6% nickel with 18–20% Chromium.

      In 202 grades, higher amount of manganese is present (6–8%) as compared to 2–3% in 304 SS.

      Although both are austenitic in nature, but their grain sizes may differ.

      But the main difference is their composition.

      Reply
    • WordPress.com par aap jo free me blog banayoge usme domain name ke sath wordpress.com likha hoga. Example : domain.wordpress.com . Aap ko 5.99 Dollar likha kar wo ye kah rahe hai ke aap domain bhi buy kar sakte ho, aap use skip kar dijiye.

      Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!