सूरज की यह 47 बातें आप नही जानते होंगे | Sun in Hindi

About Sun in Hindi – सूरज के बारे में जानकारी

sun in hindi
About Sun in Hindi

1. चाहे दिन हो जा रात आप जब भी यह तथ्य पढ़ रहे हो जा कभी भी कुछ कर रहे हो तो सूर्य द्वारा छोड़े गए 10 लाख अरब (1013) न्युट्रान आप के शरीर से गुज़र रहे होते हैं।

2. सुर्य मंण्डल का 99.24% वजन सुर्य का है।

3. अगर सूरज का आकार एक फुटबाल जितना और बृहस्पति का गोल्फ बाल जितना कर दिया जाए तो धरती का आकार एक मटर से भी कम होगा।

4. प्रकाश सूरज से धरती पर आने के लिए 8 मिनट 17 सेकेंड लेता है।

5. संस्कृत भाषा में सुर्य के कुल 108 नाम हैं।

6. अगर मान ले कि आप सूर्य की सतह पर रहते हैं तो आप को धरती पर आने कि लिए जो रॉकेट तैयार करना होगा उसकी शुरूआती गति 618 किलोमीटर प्रति सैंकेड होनी चाहिए।

7. सूर्य एक गैस का गोला है यह 72% Hydrogen, 26% Helium और 2% Carbon & Oxygen और बाकी का हिस्सा कई भारी तत्वों जैसे ऑक्सीजन, कार्बन, लोहे और नीयोन से बना है।

8. सुर्य की बाहरी सतह का तापमान 5500 डिगरी सेलसीयस है जबकि अंदरूनी भाग का तापमान 1 करोड 31 लाख डिगरी सेलसीयस है।

9. सूर्य भारी मात्रा में सौर वायु उत्पन्न करता है जिसमें इलेक्ट्रॉन और प्रोटॉन जैसे कण होते है। यह वायु इतनी तेज (लगभग 450 किलोमीटर प्रति सेकेंड) और शक्तिशाली होती है कि इसमें मौजूद इनेक्ट्रॉन और प्रोटॉन सूरज के शक्तिशाली गुरूत्व से भी बाहर निकल जाते हैं।

10. धरती जैसे शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र वाले ग्रह सौर वायु से उत्पन्न इलेक्ट्रॉन और प्रोटॉन को पृथ्वी के पास पहुँचने से पहले ही मोड़ देते हैं। (ध्यान रहें चुंबकीय क्षेत्र मोड़ता है वायुमंडल नही।)

Sun Eclipse sun history in hindi
सुर्य ग्रहण – Sun Eclipse

11. सुर्य ग्रहण तब होता है जब चाँद, धरती और सूर्य के मध्य आ जाए। यह स्थिति ज्यादा से ज्यादा 20 मिनट तक रहती है।

12. धरती पर हर जगह 360 दिनो में एक बार सूरज ग्रहण ज़रूर दिखता है। साल में ज्यादा मे ज्यादा 5 बार ही सूर्य ग्रहण लगता है। सूर्य ग्रहण 7 मिनट 40 सैंकेड तक रहता है मगर संपूर्ण सूर्य ग्रहण 20 मिनट तक चलता है।

13. सुर्य की द्रव्यमान (वजन) लगभग 1.989*1030 किलोग्राम है।

14. हर सेकेंड सूर्य में 7 करोड़ टन हाइड्रोजन , 6 करोड़ 95 लाख टन हीलियम में बदलती है और बची 5 लाख टन गामा किरणों में बदल जाती है।

15. हर सैकेड सुर्य का वज़न 50 लाख टन कम हो जाता है।

16. सूर्य के अंदरूनी भाग का दबाव धरती के वायुमंडल के दबाव से 340 अरब गुना ज्यादा है। सूरज के अंदरूनी भाग का घनत्व, धरती पर मौजूद पानी के घनत्व से 150 गुना ज्यादा है।

17. अगर सूर्य के केंद्र से एक पनीर के टुकड़े जितने भाग को धरती की सतह पर रख दिया जाए तो कोई भी चट्टान जा ओर कोई चीज इसे धरती के 150 किलोमीटर अंदर तक घुसने से नही रोक सकती ।

18. सुर्य की सतह का क्षेत्रफल धरती के क्षेत्रफल से 11990 गुना ज्यादा है।

19. सूर्य का गुरूत्वार्कष्ण धरती से 28 गुना ज्यादा है। मतलब कि अगर धरती पर आपका वजन 60 किलो है तो सूर्य पर यह 1680 किलो होगा।

20. धरती की तरह सूरज ठोस नही है। यह सारा का सारा गैसों का बना हुआ है।

21. सूर्य का गुरूत्व इतना शक्तिशाली है कि 6 अरब किलोमीटर दूर स्थित प्लूटो ग्रह भी इसके गुरूत्व के कारण अपनी कक्षा में घूम रहा है।

22. अगर कोई वस्तु सूरज के 20 लाख 22 हज़ार किलोमीटर के दायरे में आती है तो सूरज उसे अपनी ओर खींच लेगा।

23. प्रकाश सुर्य से प्लुटो तक पहुँचने में 5 घंटे 30 मिनट लेता है।

24. जैसे हमारी धरती अपनी धुरी के समक्ष 24 घंटे में एक चक्कर पूरा करती है ऐसे ही सूर्य अपनी धुरी के समक्ष 25 दिन में एक चक्कर पूरा करता है।

25. सूर्य अपने ध्रुवों की अपेक्षा, अपनी भू-मध्य रेखा पर ज्यादा गति से घूर्णन (rotation) करता है।

26. जबसे सूरज का जन्म हुआ है इसने सिर्फ 20 बार ही आकाशगंगा का चक्कर काटा है। इसे एक चक्कर पूरा करने में 25 करोड़ साल लग जाते है।

27. सूर्य के एक वर्ग सेंटीमीटर से जितनी उर्जा पैदा होती है इतनी उर्जा 100 वाट के 64 बल्बो को जगाने के लिए काफी होगी।

28. सूर्य की जितनी उर्जा धरती पर पहुँचती है इतनी उर्जा संपूर्ण मानवों द्वारा खपत की उर्जा से 6000 गुना ज्यादा होती है।

29. जितनी उर्जा 30 दिन में धरती को सूर्य द्वारा मिलती है इतनी उर्जा मानवों द्वारा पिछले 40,000 साल से खपत उर्जा से कहीं ज्यादा है।

30. अगर मान लें कि सूरज की चमक एक दिन धरती पर न पुँहचे तो धरती कुछ ही घंटो में बर्फ की तरह पूरी तरह से जम जाएगी सारी धरती उत्तरी ओर दक्षिणी ध्रुव जैसी बन जाएगी।

31. नार्वे एकलोता ऐसा क्षेत्र है जहां सूर्य लगातार साढ़े 3 महीने तक चमकता रहता है।

32. 1 अरब 10 लाख साल बाद सुर्य अब से 10% ज्यादा चमकने लगेगा। धरती का वायुमंडल और इसकी नमी अत्यधिक तापमान के कारण अंतरिक्ष में उड़ जाएगी।

33. अब से 5 अरब साल बाद सुर्य अब से 40% ज्यादा चमकने लगेगा। सारे सागर , महासागर और नदियों का पानी जलवासप बन कर अंतरिक्ष में उड़ जाएगें।

34. अब से 5 अरब 40 करोड़ साल बाद सूर्य में सारी हाइड्रोजन खत्म हो जाएगी और यह खत्म होना शुरू हो जाएगा।

sun information in hindi
सामान्य सूर्य और लाल दानव की तुलना

35. अब से 7 अरब 70 करोड़ साल बाद सूरज लाल दानव का रूप धारण कर लेगा। यह लगभग 200 गुना बड़ा हो जाएगा और बुद्ध ग्रह तक पहुँच जाएगा।

36. 7 अरब 90 करोड़ साल बाद सूर्य एक सफेद बोने में बदल जाएगा तब इसका आकार सिर्फ शुक्र ग्रह के जितना होगा।

37. सूर्य हमारे सोलर सिस्टम की सबसे बड़ी वस्तु है। यह इतना बड़ा है कि इसमें 13 लाख पृथ्वी समा सकती है।

38. आकाशगंगा में 5% ऐसे तारे भी है जो सूरज से ज्यादा बड़े और चमकदार है।

39. सूरज पर मौजूद 7 करोड़ टन Hydrogen, हर सेकंड 6 करोड़ 95 लाख टन Helium और 5 लाख टन Gamma Rays में बदल रही है। सूरज की तेज़ रोशनी का कारण यही है।

40. अगर एक पेंसिल की नोक जितना सूरज पृथ्वी पर आ जाए तो भी 145 किलोमीटर दूर से ही आपकी जलकर मौत हो जाएगी।

41. सूर्य, पृथ्वी से 14 करोड़ 96 लाख किलोमीटर की दूरी पर है। अगर एक चीता आज पृथ्वी से दौड़ना शुरू करे तो उसे सूर्य तक पहुंचने में 151 साल लग जाएँगे। चीते की रफ्तार लगभग 120 किलोमीटर प्रति-घंटा होती है।

42. पृथ्वी और सूर्य के बीच की दूरी बदलती रहती है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि पृथ्वी सूरज की परिक्रमा एक अण्डाकार पथ पर करती है। दोनो के बीच की दूरी 14.70 करोड़ से 15.20 करोड़ किलोमीटर के बीच बनी रहती है।

43. एक बंदूक की गोली की औसत गति 1,126 फुट प्रति सैकेंड होती है। अगर यह गोली सूरज की तरफ मारी जाए तो इसे वहाँ तक पहुंचने में 14 साल लग जाएँगे।

44. अगर सूर्य की एक घंटे की सारी energy को सोलर पैनलों के सहारे बिजली में बदल लिया जाए तो यह दुनिया की एक साल की बिजली की खपत के बराबर होगी।

45. हर सेकेंड सूरज से एक ख़रब परमाणु बमों जितनी शक्ति निकल रही है।

46. सूर्य के अंदर nuclear fusion क्रिया होती है ये बिल्कुल हाइड्रोजन बंब फटने पर होने वाली क्रिया जैसी है।

47. सूरज का असली रंग सफेद है इसके वातावरण की वजह से ये पीला दिखाई पड़ता है।

Related Posts

93 thoughts on “सूरज की यह 47 बातें आप नही जानते होंगे | Sun in Hindi”

  1. Sir ji apse ek request hai plz ap apna ek youtube chanel banao, plz i request ap bahut kam ki jankar dete ho .Ap bhi vayejer 2 se kam nahi hai information dene me.

    Reply
    • किशोर जी इस साइट पर अब काफी कंटेट डाला जा चुका है। इसलिए पोस्ट अपडेट करने में समय लगता है।

      Reply
  2. Sir hume pta h ki dharti pe sun ki roshni 7 color m divide ho sakti h pr kya kisi or planet pe jha gas ki variety dharti ke mukable kuch jyada ya kai guna jyada ho to tb bhi sunlight 7 color m hi divide hogi kyoki jaha tk m janta hu sun light atmosphere me hi divide. Ho kr dikhti h iska pakka reply kare

    Reply
    • पंकज जी यह अलग-अलग ग्रहों और उपग्रहों पर अलग-अलग होता है। जैसे कि चांद पर यह सीधा ही होता है क्योंकि उसका कोई वायुमंडल नहीं। इसके सिवाए मंगल का वायुमंडल है लेकिन उसके लाल रंग के कारण उसका आसमान और आस-पास की चीजें ऐसी लगती है जैसे उन पर लाल-भूरी रंग की छाया हो।

      Reply
  3. Narve ek lota esha chetra hai jaha surya lagatar Sade 3 mahine tak chamakta rahata hai kyo ? yaha yah sapast kijiye ki din aur raat ya ke wal 12 ghante aur ek baat baki mahine Surya kyo nahi ugta ?

    Reply
    • जयराम जी, ऐसी प्राचीन कहानियों को हमें विज्ञान से जोड़कर नहीं देखना चाहिए।

      Reply
  4. Hi sir
    Kay karn hai ki earth sun ke njdik hota hai phir
    bhi thadh lagta hai. as_3 January
    or
    4 July ko earth sun se dur hota hai phir bhi garmi lagta hai
    Plz ans

    Reply
    • अगर आप दक्षिणी गोलार्ध में होंगे, तो यह बात बिलकुल उल्ट है। हम उत्तरी गोलार्ध में रहते हैं, और इस समय सूर्य की किरणे तिरछी होंने के कारण, हमारे यहां सर्दियां होती हैं।

      Reply
    • यह पूरी तरह से शुुद्ध किसी एक मेटल का नहीं बना होता। हल्की और मजबूत धातु मिश्रणों का प्रयोग किया जाता है।

      Reply
  5. sir 15-jun-2018 ko pure din sun led light ki tarah bilkul hi white dikh raha tha, aisa lag raha tha mano usme lalima bilkul hi nahi hai aisa kiyo sir pls give me answer

    Reply
    • चंदन की उत्तर-पश्चिमी भारत का इन दिनों यही हाल है। असल में राजस्थान से धूल भरी हवाएं उत्तर की तरफ बढ़ रही है जिनकी वजह से यह सब हुआ है। इसे ठीक होने में कुछ दिन लगेंगे।

      Reply
    • आपने जो प्रश्न पूछा है, यह प्रकाश का लक्षण है। इसका का कोई कारण नही हो सकता, बल्कि यही इसके बारे में ज्ञान है।

      Reply
  6. Sir abhi haal hi Mai July 31 2018 ko sun mission pr NASA ek spacecraft bhejega.. sir ye bataiye ye space craft kitne km/s ki speed se jayega or ye sun ke carona Mai pahuchne Mai kitna time lagega or kitne dino Mai pahuchega…. Or sun ka round kitne dino Mai lagayega…… Ye craft sun ke kitni door tk jyega ki isko koi damage na ho plzzz sir reply jarur kariyega. Thanx sir ji

    Reply
    • Mission duration – 6 years, 321 days (planned)
      Launch mass – 685 kg (1,510 lb)
      Dry mass – 555 kg
      Payload mass – 0 kg
      Launch date – uly 31–August 19, 2018 (planned)
      Speed – 200 km/second

      Reply
    • साधारण सी बात है विकी जी, अगर सूर्य उस हिसाब से उगता तो हमारे लिए उत्तर पूर्व होता और दक्षिण पश्चिम होता, इसके सिवाए मौसम में भी काफी फर्क होता।

      Reply
    • 50 लाख टन वज़न तो कुछ भी नही है अनमोल जी। सूर्य का वज़न बहुत ज्यादा है, ये खत्म नही होगा बल्कि नष्ट होगा।

      Reply
  7. Sir sun se Jo kirane aati hai vo vastao me kis from me hoti hai that means analog,digital ya anya please sir give me answer.

    Reply
    • इसका सीधा सा उत्तर है क्योंकि चांद हमारे पास है जबकि सूर्य काफी दूर है। दोनो का आकार बिलकुल एक जैसा भी नहीं लगता, बदलता रहता है।

      Reply
    • Q ki surya bhot dur h earth se n mooj pass me hi h isliye..for e.g dur rkha football n pass rkha cricket ball dono same size ke dikhte h.hope ab samja ho

      Reply
    • इस बारे में संभावना की संभावना का भी कुछ पता नहीं। क्योंकि हम ब्रह्मांड के एक छोटे से काल में जी रहे हैं और कुछ हज़ारों साल बाद शायद हमारा वजूद ही ना रहे।

      Reply
  8. क्या सुर्य जल रहा है यदि हाँ तो सर ये बताए
    ओक्सिजन के बिना आग लग सकती है यदि
    नहीं तो फिर इतनी कम ओक्सिजन में इतने दिनों तक कैसे जल सकता है

    Reply
    • सूर्य गर्म इस लिए है क्योंकि उसमें लगातार हाईड्रोज़न हीलीयम में बदल रही है।

      Reply
  9. Hyee sir ye bhi to go sakta hai ki sury ek prthavi jesa hi Grah ho Jo ab ek aag ka gola bangya ho pradushan ki vaje se jesa ki aaj kal prathavi par tapman badta ja raha hai…. kya ye mana ja sakta hai

    Reply
      • Sir.
        Itni sari jaankariyan aapko kaise pta hai.
        Jo bilkul 100% sahi hai.???????
        Isme kuch aise tathya aise bhi hai jisme kuch sandeh hai……
        Iseliye surya aur chandrma ke bare me 100% kahna sahi nhi hai.

        Reply
        • Sir.
          But aapki jaankariyan bhaut acchi bhi hai.
          Jisse padhne se bhaut accha feel bhi hota hai.
          Aur padhne me mza bhi ata hai.
          Sir agar aapka koi whatsup group hai toh mi aapke group me add hona chahta hu.
          Kuki bhaut se log aise hai jinko aisi jaankari chahiye.
          Toh sir aapki jaankari bhaut acchi aur labhdyak bhi hai.
          Iske liye aapko bhaut bhaut dhanyabaad.
          Diwakar Pratap Singh.
          Ph- 8567001294

          Reply
  10. Ye jo aapne post kiya hai us jankari ke liye thanks and hum log surya ke baare main are bhi jaanna chahte hai are time time pe ise update karte rahe thanku….. sir ji …

    Ajay kumar jain surajpur.

    Reply
    • आसमान में बादलों के एक दूसरे से टकराने से रगड़ पैदा होने के कारण बिजली पैदा होती है, धरती पर किसी कंडंकटर की तलाश में वह बिजली नीचे गिरती है।

      Reply
  11. Sun earth ko continue attract krta hai
    Lekin uska attraction force centripetal force me change ho jata h
    Jis force ke effect se earth sun ke pass Na jaker circular motion krti h

    Reply
  12. Please मुझे ये बताईये कि sun की आपनी gravity हैं और earth की आपनी,तो दोनो आपस मैं चिपक (टकरा )
    क्यों नही जाती हैं (क्योंकी हम जानते हैं की सौर मंडल के सभी ग्रह sun कि gravity के अनुसार ही चक्कर लगते हैं )

    Reply
    • जीतु जी धरती सूर्य की और बेहद धीरे धीरे बढ़ रही है पर दोनो कभी चिपकेगें नही क्योंकि उससे पहले ही सूर्य नष्ट हो जाएगा।

      Reply
      • ऐसा क्यू है की अगर sury km एक
        पेन्सिल का टुकड़ा earth मे आ jaye to आदमी 155km दूर से ही जल jayega ऐसा क्यू ?

        Reply
          • तो इसका मतलब यह हुआ कि 150km के दायरे की हर वस्तु नष्ट हो जायेगी??, या केवल हर इन्सान ही बस?

          • जिन चीजों को बढ़ते तापमान से नुकसान पहुँचेगा, उन्हें तो खत्म होना ही है ना…..

    • Ise abhikendra bl khte h bhaiji
      Surya earth ko apni traf khecta h or earth sun ko bt sun ki grevity zyada hain or earth ki km to earth sun ki tarf jayega bt earth ki apni grevity ke karn ye uske charo or ghumega na ki usse tkrayega

      Reply
  13. Very very GØøD knowledge about Sun..
    मुझे बहोत अच्छा लगा ये पोस्ट पढ़ कर सूर्य के बारे में मुझे इतना जयादा नहीं पता था। धन्यवाद् साहिल कुमार जी

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!