गूगल के बारे में 22 रोचक तथ्य | Google Facts in Hindi

Amazing Google Facts in Hindi
19 Amazing Google Facts in Hindi

इंटरनेट की दुनिया से जुड़े लोगों से यह पूछना कि आप Google के बारे में जानते है, बेमानी सवाल होगा। 1998 में शुरू यह सर्च इंजन जल्द ही लोगों की daily life का हिस्सा बन गया। लोग अक्सर पूछते हैं कि गूगल सर्च इंजन होने के क्या मायने हैं, इसका पहला जवाब होता है भरोसा। इंटरनेट पर किसी को कुछ भी चाहिए, उसका पहली शुरूआत गूगल homepage से ही होती है। गूगल ने इंटरनेट सर्फ़िंग को आसान बनाया है। सर्च इंजन ज्यादा user friendly हुआ है। YouTube से Gmail तक और एंड्रोइड से लेकर गूगल अर्थ तक हर जगह पूरी दुनिया गूगलमय हो गई है। आइए जानते हैं गूगल के बारे में कुछ रोचक बातें –

गूगल के बारे में 22 रोचक तथ्य – Google Facts in Hindi

1. Google एक सैकेंड में लगभग 1,30,900 रूपए कमाता है।

2. अगर आपको कोई चीज को सर्च करना हो तो हम कहते हैं गूगल पर सर्च करो न कि इंटरनेट पर। इस बात मतलब यह कि आज गूगल इंटरनेट का पर्याय बन चुका है। इस कंपनी की शुरुआत 1995 में हुई थी। गूगल को गूगल बनाने वाले लैरी पेज और सर्जे ब्रिन 1995 में पहली स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी में मिले।

3. Domain register करने के वक्त इसे Google नाम दिया। दरअसल ‘Google‘ असल में Googol की गलत स्पेंलिंग है। Googol एक बहुत बड़ी संख्या है, जिसमें 1 से लेकर 100 शून्य लगते हैं। Googol नाम पहले ही बुक हो चुका था इसलिए इसे Google नाम देना पड़ा।

4. 2010 के बाद से Google ने प्रति सप्ताह औसतन कम से कम एक कंपनी को ख़रीदा है|

google doodle hindi
गूगल डूडल

5. 1998 में पहली बार गूगल डूडल दर्शकों को homepage पर दिखाई दिया। इसमें नेवाडा में Burning festivel में भाग ले रहे लोगों के बारे में था। गूगल में डूडल की बहुत बड़ी टीम काम करती है, जो अभी तक एक हजार से ज्यादा डूडल post कर चुकी है। डूडल एक खास तरह का लोगो होता है, जो गूगल पर किसी भी खास दिन या किसी बड़े व्यक्ति की याद पर लगाया जाता है। जब दीवाली का त्योहार होता है तो पटाखे वाला डूडल दिखाया जाता है।नीचे वही दिखाया गया है।

6. 2004 में अप्रैल फूल यानी एक अप्रैल के दिन गूगल ने Gmail शुरू किया। सबसे ज्यादा Storage, तेजी से मेल सेंड करने की क्षमता ने लोगों के बीच इसे लोकप्रिय बना दिया। शुरुआत में इसे Gmail account बनाने के लिए इसका आमंत्रण होना बहुत जरुरी होता था। बाद में popular होने के बाद यह सबके लिए free कर दिया गया।

7. 2004 में ही गूगल ने digital mapping कंपनी कीहोल को अधिग्रहण कर लिया और 2005 में गूगल map और गूगल अर्थ जैसी नई एप्लीकेशन लांच की। इसमें ऐसे फीचर हैं, जो पलभर पूरी दुनिया का नाप दें। वही अब इसकी पहुंच चाँद तक है।

8. 2000 में गूगल ने adword की शुरुआत की। यह self service program है, जिसकी मदद से कोई भी व्यक्ति online कैम्पेन चला सकता है। आज के विज्ञापन संबंधी समाधान, जैसे display, mobile, video और simple text की शुरुआत एक दशक पहले हो चुकी थी। इस service ने हजारों व्यापार फर्म्स को फायदा पहुंचाया।

9. गूगल की Gphone लाने को लेकर बहुत सारे कयास लगाए जा रहे थे। बाद में कंपनी मोबाइल फोन के लिए एंड्रोएड प्लेटफॉर्म लेकर आई। यह आज सभी फोन users की जरूरत बन गया है। एंड्रॉइड की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि आज स्मार्टफोन के करीब 80 फीसदी बाजार पर इसका कब्जा है, यानी हर पांच में से चार स्मार्टफोन एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम पर चल रहे हैं।

10. Google के Head office में 200 बकरियों को घास काटने के लिए रखा गया है । गूगल अपने दफ्तर के लॉन में घास की कटाई के लिए कटाई मशीन का उपयोग नहीं करता क्योंकि इससे निकलने वाले धुंए और आवाज की वजह से दफ्तर में काम कर रहे कर्मचारियों को परेशानी होती है इसीलिए Google ने लॉन की घास की सफाई के लिए बकरियों को लगाया है।

11. Google का सर्च इंजन 100 मिलियन गीगाबाइट का हे ! उतना डाटा अपने पास सेव करने के लिए एक टेराबाइट की एक लाख ड्राइव की जरुरत होगी !

12. गूगल का home पेज इतना खाली इसलिए लगता हे क्योकि सर्ग़ेई ब्रिन और लेरी पेज को html का ज्ञान नहीं था ! जिस से वे इसे भव्य बना पाते ! बहुत समय तक तो इस पर सबमिट बटन भी नहीं था, रिटर्न की को हिट करके ही टेग सर्च किये जाते थे !

13. गूगल ने अपने स्ट्रीट व्यू मेप के लिए 80 लाख 46 हजार की।मी। सड़क के बराबर फोटोग्राफ लिए हे !

14. दुनिया की सबसे महत्वपूर्ण कम्पनी की वेबसाइट के कोड में 23 मार्कअप एरर हे !

15. हर हफते 20,000 से भी ज्यादा लोग Google में जॉब के लिए अपलाई करते है|

16. 2011 में गूगल का 96 फीसदी रेवेन्यु जो की 37।9 अरब डॉलर था ! वह सिर्फ विज्ञापन से आया था !

17. गूगल कोई भी उत्पाद लाता था और वह कुछ दिनों में हिट भी हो जाता है। 2 सितम्बर 2008 में New open source web browser लांच किया गया है, जिसका नाम था गूगल क्रोम था, इसके आने के बाद इंटरनेट users को एक नया एहसास मिला।

18. 2006 में गूगल ने ऑनलाइन वीडियो शेयरिंग साइट YouTube खरीद ली। YouTube पर हर मिनट के हिसाब से 100 घंटे तक वीडियो upload किए जाते हैं। वहीं दुनिया भर लाखों चैनल पर आने वाले program इस पर upload होते हैं, इस तरह की चीज ने दुनिया को और पास लाकर खड़ा कर दिया।

19. साल 1999 में गूगल को 5 करोड़ web pages को scan (crawl) करने में एक महीने का समय लगता था। 2012 में गूगल यही काम एक मिनट में कर लेता था।

20. गूगल पर प्रति दिन 16 से 20 प्रतिशत search ऐसी होती हैं, जिन्हें पहले कभी नहीं किया गया।

21. गूगल की शुरूआती साल 1998 में इस पर प्रति दिन 10 हज़ार सर्च होती थी। साल 2006 में इतनी एक सेकेंड में होनी शुरू हो गई।

22. वर्तमान समय (साल 2020) में गूगल पर प्रति सेंकेंड 40 हज़ार सर्च होती हैं। यानि कि प्रति दिन 350 करोड़ और एक साल में 120 लाख करोड़ सर्च।

Related Pages

13 thoughts on “गूगल के बारे में 22 रोचक तथ्य | Google Facts in Hindi”

  1. ‘you tube ke bare me aap ne likha tha
    7. YouTube पर हर एक मिनट में 100 घंटे से भी ज्यादा समय के वीडीयो अपलोड किए जाते है
    rochak .com
    18. 2006 में गूगल ने ऑनलाइन वीडियो शेयरिंग साइट Youtube खरीद ली। Youtube पर हर मिनट के हिसाब से 60 घंटे तक वीडियो upload किए जाते हैं। वहीं दुनिया भर लाखों चैनल पर आने वाले programe इस पर upload होते हैं, इस तरह की चीज ने दुनिया को और पास लाकर खड़ा कर दिया।

    Reply
    • सर वो पोस्ट मैने अपने पहले ब्लॉग पर तीन साल पहले लिखी थी, आपको धन्यवाद कहना चाहुँगा यह बात ध्यान में लाने के लिए। मैं अभी इसे ठीक कर देता हुँ।

      Reply
  2. Google is King
    thanks for such a killer article about Google…glad to read this epic post..!

    well, Google earns almost 50,000-60,000₹ per second (according to my knowledge)

    Reply
  3. Bahut hi zabardast information di hai apne. Mujhe pahli baar pata chala ki Surgey Brin or Larry page ko html ki itni knowledge nahi thi. Uske bawjood kya gazab ki technology banayi hai.

    Ghaas kaatne le liye Bakariyo ka istemal hota hai. This is so interesting and creative idea.

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!