चीन की राजधानी बीजिंग के 18 मज़ेदार तथ्य | Beijing in Hindi

Beijing – बीजिंग जिसे पहले पीकिंग के नाम से जाना जाता था चीन की राजधानी है। ये दुनिया का दूसरा सबसे ज्यादा आबादी वाला शहर होने के साथ-साथ दुनिया का सबसे ज्यादा आबादी वाला राजधानी शहर भी है। बीजिंग की आबादी 2 करोड़ 15 लाख से ज्यादा है।

ये दुनिया का एक महान और प्रसिद्ध शहर है जिसमें आधुनिक और पारंपरिक वास्तुकला का सुमेल पाया जाता है। आज बीजिंग दुनिया में अपने राजनीतिक दबदबे, अर्थव्यवस्था, शिक्षा, इतिहास, संस्कृति और तकनीक के लिए जाना जाता है।

Beijing in Hindi

बीजिंग शहर से जुड़े रोचक तथ्य – Amazing Facts of Beijing in Hindi

1. शंघाई के बाद बीजिंग चीन का दूसरा सबसे बड़ा शहरी आबादी वाला शहर है और ये देश की राजनीति, संस्कृति और शिक्षा का प्रमुख केंद्र है। यहां के ऐतिहासिक महल, मंदिर, बाग, पार्क, मक़बरे, दीवारें और फाटक बहुत प्रसिद्ध हैं।

2. चीन की बड़ी-बड़ी सरकारी कंपनियों के मुख्यालय यहीं पर स्थित हैं और ये शहर देश के सभी प्रमुख सड़क मार्गों और रेल मार्गों से जुड़ा हुआ है। बीजिंग का इंटरनेशनल एयरपोर्ट पैसेंजर ट्रैफिक के हिसाब से दुनिया का दूसरा सबसे व्यस्त एयरपोर्ट है। (पहले नंबर पर अमेरिका का अटलांटा है।)

3. बीजिंग शहर का इतिहास लगभग 3 हज़ार साल पुराना है। इन 3 हज़ार सालों में कई बड़े शहर चीन की राजधानी रहे, लेकिन पिछले 800 सालों से ये शहर देश का प्रमुख राजनीतिक केंद्र बना हुआ है।

4. बीजिंग चीन के किसी भी बादशाह के रहने के लिए सबसे सुरक्षित शहर था क्योंकि ये तीन तरफ से पहाड़ियों से घिरा हुआ है और बाकी तरफ से लंबी-लंबी दिवारें शहर की सुरक्षा करती थीं।

5. दूसरी सहस्राब्दी (2nd millennium) यानि कि 1 जनवरी 1001 ईस्वी से 31 दिसंबर सन 2000 तक के 1000 साल के ज्यादातर समय में बीजिंग आबादी के हिसाब से दुनिया का सबसे बड़ा शहर रहा।

6. बीजिंग ने साल 2008 के Summer Olympics की मेजबानी की थी और 2022 में यहां Winter Olympics होंगे। इस तरह से ये पहला शहर बन गया है जिसने दोनों तरह के ओलंपिक खेलों की मेजबानी की।

7. बीजिंग में 91 Universities है जिनमें से ज्यादातर की Rank चीन में अच्छी है। लेकिन यहां की Peking University और Tsinghua University दुनिया की Top 60 Universities में शामिल हैं।

8. साल 2015 में World की Top 500 Global Compnies में से 52 Companies के Headquarters बीजिंग में स्थित थे। इस मामले में ये आंकड़ा दुनिया के किसी भी शहर से ज्यादा है।

9. शहर का झोंगगुआनकुन (Zhongguancun) इलाक़ा चीन की सिलिकॉन वैली के नाम से जाना जाता है जो कि चीन में नई खोजों और तकनीकी उद्योगों का केंद्र है।

Beijing Kis desh me hai in Hindi

चीन में बीजिंग की स्थिती

10. पिछले 3 हज़ार सालों में शहर के कई नाम रहे है और बीजिंग नाम 1403 ईस्वी से चला आ रहा है जिसका अर्थ होता है – ‘उत्तरी राजधानी’। इस नाम को 1 जनवरी 1979 को सरकारी मान्यता दे दी गई थी।

11. बीजिंग के आस-पास के इलाकों में स्थित प्राचीन गुफाओं में 2 लाख से 25 हज़ार साल पुराने मानव कंकाल पाए गए है जो कि इस बात की ओर इशारा करते हैं कि इस इलाके मनुष्य काफी लंबे समय से रहते आ रहे हैं।

12. शहर के 86.26% लोग चीनी लोक धर्म को मानते है जबकि 11.2% बौद्ध धर्म, 1.76% इस्लाम और 0.78% लोग ईसाई धर्म को मानते है।

13. 1954 में इस शहर की आबादी 28 लाख के लगभग थी, जो 1964 में 76 लाख, 1982 में 92 लाख, 1990 में 1 करोड़, साल 2000 में 1 करोड़ 35 लाख, 2010 में 1 करोड़ 96 लाख और अब 2 करोड़ 15 लाख से ज्यादा है। इस आंकड़े से पता चलता है कि इस शहर की आबादी कितनी तेज़ी से बढ़ी है। शहर की कुल जनसंख्या में 51.6% पुरूष जबकि 48.4% महिलाएं हैं।

14. शहर की 80% जनसंख्या कामकाजी है। साल 2004 के मुकाबले 2013 में 0-14 साल के बीच की उम्र के बच्चों की संख्या कम होकर 9.96% से 9.50% हो गई और 65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों की संख्या भी 11.12% से 9.2% पर आ गई।

15. हान चीनी चीन का सबसे बड़ा जातीय समूह है और बीजिंग में भी हान चीनियों की संख्या 96% है।

16. बीजिंग में खराब पर्यावरण एक बड़ी समस्या है और इसका एक बुरा इतिहास भी है। साल 2000 से 2009 के बीच शहर लगभग चार गुना तक फैल गया था जिसकी वजह से शहर के मौसम और पर्यावरण के तत्वों पर बुरा असर पड़ा। चीन की सरकार इसे कम करने की कोशिश कर रही है और उन्होंने इसमें काफी सफलता भी हासिल कर ली है।

17. चीन में सन 1605 में बनी एक चर्च आज भी मौजूद है। यहां 1300 साल पहले बना बौद्ध मंदिर भी है जिसे फ़्यूयन मंदिर (Fayuan Temple) कहा जाता है।

18. इस शहर के 144 अजायबघरों में आपको कई तरह की ऐतिहासिक चीजें देखने को मिलेंगी।

More Cities Facts

Loading...

Please Note : – Amazing Facts of Beijing in Hindi मे दी गयी Information अच्छी लगी हो तो कृपया हमारा Facebook Page लाइक करे या कोई टिप्पणी (Comments) हो तो नीचे करें।

Comments

  1. शिवम कुमार

    Reply

    • Reply

  2. Aryan saini

    Reply

  3. Gattu Battu

    Reply

    • Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!