पहला अमेरिकी कहे जाने वाले ” बेंजामिन फ्रैंकलिन ” से जुड़े 19 मज़ेदार तथ्य

बेंजामिन फ्रैंकलिन के बारे में – About Benjamin Franklin in Hindi

About Benjamin Franklin in Hindi

व्यवसाय : राजनेता और आविष्कारक
जन्म : 17 जनवरी 1706, बोस्टन (अमेरिका)
मृत्यु : 17 अप्रैल 1790, फिलाडेल्फिया (अमेरिका) (आयु 84 वर्ष)
प्रसिद्धि कारण : अमेरिका के संस्थापकों में से एक

1. बेंजामिन फ्रैंकलिन अमेरिका के एक राजनेता थे जिन्होंने अमेरिका की आज़ादी के संघर्ष में महत्वपूर्ण योगदान दिया था। उनके योगदान की महत्ता का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कई बार उन्हें ‘First American’ अर्थात् ‘पहला अमेरिकी’ भी कह दिया जाता है।

2. लिओनार्दो दा विंची की तरह ही फ्रैंकलिन को कई क्षेत्रों में प्रतिभा हासिल थी। उन्होंने विज्ञान, आविष्कारको, साहित्य, संगीत और कूटनीति में भी अहम योगदान दिया है।



बेंजामिन फ्रैंकलिन का जन्म और बचपन

3. फ्रैंकलिन का जन्म 1706 ईसवी में अमेरिका के मेसाचुसेट्स राज्य के बोस्टन शहर में हुआ था। उनके पिता मोमबत्ती बनाने का काम करते थे। फ्रैंकलिन अपने पिता की 17 संतानों में से 15वीं संतान थे!

4. बेंजामिन फ्रैंकलीन ने 10 साल की उम्र में ही स्कूल जाना छोड़ दिया था और अपने बड़े भाई के साथ एक printing press में काम शुरू कर दिया। उन्होंने अपनी ज्यादातर शिक्षा स्वयं ही कई सारी किताबें पढ़कर हासिल की।

5. फ्रैंकलिन जब 17 साल के थे तब अपने भाई के साथ काम करना छोड़ के बोस्टन से फिलाडेल्फिया चले गए और वहां उन्होंने एक printing press में नौकरी करनी शुरू कर दी।

अमेरिका की आज़ादी में फ्रैंकलिन का क्या योगदान है?

6. बेंजामिन फ्रैंकलिन चर्चा में तब आए जब वो अपने अख़बार के जरिए अमेरिका पर ब्रिटिश नियंत्रण की आलोचना करने के लिए मशहूर हो गए। दरासल उस समय अमेरिका में अंग्रेज़ों की 13 कलोनियां थी, जिन पर इंग्लैंड का नियंत्रण था। इंग्लैंड बेवजह के टैक्सों से इन्हें परेशान कर रहा था।

7. जब अमेरिका की 13 कलोनियों ने मिलकर ब्रिटिश नियंत्रण के खिलाफ युद्ध छेड़ा तो उस में पेनसिलवेनिया कलोनी का प्रतिनिधि फ्रैंकलिन को बनाया गया। कलोनियों ने युद्ध जीत लिया और अमेरिका एक अलग देश बन गया।

8. अमेरिका की आज़ादी के घोषणा पत्र का मसौदा तैयार करने वाले 5 व्यक्तिों में से एक फ्रैंकलिन ही थे।

9. अमेरिकी आज़ादी के युद्ध के अंत को अमेरिका के पक्ष में करने का श्रेय भी फ्रैंकलिन को ही जाता है। युद्ध का अंत पैरिस की संधि के साथ हुआ था जिसमें बेंजामिन फ्रैंकलिन फ्रांस की सेना को अपने साथ लाने में कामयाब हो गए और इससे दबाव में आकर इंग्लैंड को अमेरिकी आज़ादी को मान्यता देनी पड़ी।

10. बेंजामिन फ्रैंकलिन एकलौते ऐसे व्यक्ति है जिन्होंने अमेरिका की स्थापना के 4 महत्वपुर्ण दस्तावेज़ों पर हस्ताक्षर किए हैं। यह दस्तावेज़ हैं – आज़ादी का घोषणा पत्र, संविधान, पैरिस की संधि, फ्रांस और अमेरिका का गठजोड़।

Related : अमेरिका का इतिहास

बेंजामिन फ्रैंकलिन के आविष्कार

11. अमेरिका की आज़ादी में इतना महत्वपुर्ण योगदान देने के बावजूद भी फ्रैंकलिन ने कई प्रसिद्ध आविष्कार किए हैं और विज्ञान के क्षेत्र में कई शोध किए हैं।

12. फ्रैकलिन के बिज़ली के साथ प्रयोग चर्चा में रहे हैं। उन्होंने यह सिद्ध किया था कि आकाशीय बिज़ली (lightning), बिजली (electricity) ही होती है। उन्होंने तड़ित चालक (lighting rod) की खोज़ की थी जो ऊँची इमारतों को आकाशीय बिज़ली से बचाती है।

13. फ्रैंकलिन के आविष्कारों में शामिल हैं – bifocals (एक प्रकार का चश्मा), the Franklin stove (खाना पकाने वाला स्टोव), odometer (किसी वाहन द्वारा तय की गई दूरी मापने वाला यंत्र) आदि।

14. विज्ञान के क्षेत्र में बिज़ली के सिवाए उन्होंने cooling (ठंडा करना), मौसम विज्ञान, प्रिटिंग और प्रकाश की तरंगे सिद्धांत पर भी काम किया था।

15. बेंजामिन फ्रैंकलिन ने अमेरिका में पहली public library और आग बुझाने का विभाग खोला था।

बेंजामिन फ्रैंकलिन से जुड़े अन्य रोचक तथ्य

16. फ्रैंकलिन ने अपने अंतिम समय में अपने सभी गुलामों को आज़ाद कर दिया था और दास प्रथा का जमकर विरोध किया।

17. उन्होंने अपने किसी भी आविष्कार का पेटेंट नही करवाया था ताकि लोग उनके आविष्कारों का फ्री में लाभ उठा सकें।

18. फ्रैंकलिन हर साल जानकारियों से भरा एका रसाला Poor Richard’s Almanac प्रकाशित करते थे जिसकी बिक्री से वो काफी अमीर हो गए।

19. उनकी तस्वीर अमेरिकी डॉलर के ऊपर भी छापी जा चुकी है।

——– बेंजामिन फ्रैंकलिन‘ के बारे में 19 मज़ेदार तथ्य समाप्त ——–

बेंजामिन फ्रैंकलिन के प्रेरक कथन

“उतना ही बोलें, जिससे आपका और दूसरों का भला हो, बेकार की बातचीत (बहस) से बचें।”

“अपने समय को नष्ट मत करें, इसे किसी सार्थक काम में लगाएं और बेकार के कामों से बचें।”

“शरीर, कपड़ों या घर में गंदगी बर्दाश्त ना करें।”

“अज्ञानी होना उतनी शर्म की बात नहीं है जितना कि सीखने की इच्छा ना रखना।”

“तैयारी करने में फेल होने का अर्थ है फेल होने के लिए तैयारी करना।”

“संतोष गरीबों को अमीर बनाता है, असंतोष अमीरों को गरीब।”

“जिसके पास धैर्य है वह जो चाहे वो पा सकता है।”

Related Posts
loading...

Note : अगर आपके पास Benjamin Franklin in Hindi मैं और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे।

अगर आपको हमारी Information about Benjamin Franklin in Hindi अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook पे Like और Share जरूर कीजिये। धन्यवााद

Comments

  1. rahul nayak

    Reply

  2. Abhishek awasthi

    Reply

  3. Thaneshwar

    Reply

    • Reply

  4. Thaneshwar

    Reply

  5. Dilip Mothariya

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!