Goa साल 1961 तक भारत का हिस्सा नहीं था ? जानें कई और मज़ेदार तथ्य

goa facts in hindi

गोवा महाराष्ट्र राज्य के दक्षिण में स्थित भारत का सबसे छोटा राज्य है। गोवा पूरी दुनिया में अपने अपने खूबसूरत समूंद्री किनारों के लिए प्रसिद्ध है। छोटा राज्य होने के बावजूद की भी इसका अपना एक इतिहास रहा है जिसके बारे में आपको इस पोस्ट में पता चलेगा।

पेश है गोवा के इतिहास, भुगोल, संस्कृति, धर्म आदि से जुड़े ज्ञानवर्धक तथ्य

Basic Facts about Goa in Hindi

गोवा से जुड़े बुनियादी तथ्य

  • राजधानी – पणजी
  • आधिकारिक भाषा – कोंकणी, मराठी
  • क्षेत्रफल – 3,702 km² (29वा)
  • जनसंख्या – 14,57,723 (2011)
  • साक्षरता दर – 88.70 प्रतीशत
  • जिले – 2
  • विधानसभा सीटें – 40
  • लोकसभा सींटे – 2
  • राज्यसभा सीटें – 1
  • स्थापना – 30 मई 1987
  • पहले मुख्यमंत्री – दयानंद भंडारकर
  • पहले राज्यपाल – गोपाल सिंह

goa bharat me

Demographic Facts of Goa in Hindi

गोवा की जनसंख्या से जुड़े रोचक तथ्य

छोटा राज्य होने के कारण इसकी जनसंख्या भी बेहद कम है, करीब 15 लाख।

गोवा में करीब 61 प्रतीशत लोग कोकणी भाषा बोलते है, इसके सिवाए 19 प्रतीशत लोग मराठी, 7 प्रतीशत कन्नड़, 5 प्रतीशत हिंदी, 4 प्रतीशत उर्दु और अन्य भाषाएं बोलते हैं।

गोवा में लंबे समय तक पुर्तगाली शासन रहा है, उन्होंने ईसाई धर्म का काफ़ी प्रचार प्रसार किया जिसकी वजह से यहां की 27 प्रतीशत आबादी ईसाई है। 66 प्रतीशत हिंदू, 9 प्रतीशत मुसलमान और बाकी की अन्य धर्मों को मानती है।

सन 1851 में गोवा की 65 प्रतीशत जनसंख्या ईसाई हुआ करती थी, पर कई ईसाईयों के युरोप तथा अमेरिका चले जाने से यहां पर ईसाईयों का अनुपात कम हो गया।

यहाँ के ईसाई समाज में भी हिंदुओं जैसी जाति व्यवस्था पाई जाती है।

Facts about Goa History in Hindi

गोवा के इतिहास से जुड़े तथ्य

गोवा का प्रथम वर्णन रामायण में मिलता है । पौराणिक लेखों के अनुसार सरस्वती नदी के सुख जाने के कारण उसके किनारे बसे हुए ब्राम्हणों को दुबारा बसाने के लिये परशुराम ऋषि ने समंदर में शर संधान किया। ऋषि का सम्मान करते हुए समंदर ने उस स्थान को अपने क्षेत्र से मुक्त कर दिया। ये पूरा स्थान कोंकण कहलाया और इसका दक्षिण भाग गोपपूरी कहलाया जो वर्तमान में गोवा है।

तीसरी सदी ईसापूर्व में भारत के अन्य हिस्सों की तरह गोवा मौर्य साम्राज्य का हिस्सा रहा।

पहली सदी के शुरुआत में इस पर कोल्हापुर के सातवाहन वंश के शासकों का अधिकार स्थापित हुआ और फिर बादामी के चालुक्य शासकों ने इस पर वर्ष 580 से 750 तक राज किया।

वर्ष 1312 में गोवा पहली बार दिल्ली सल्तनत के अधीन हुआ लेकिन उन्हें विजयनगर के शासक हरिहर प्रथम द्वारा वहाँ से खदेड़ दिया गया।

विजयनगर साम्राज्य ने गोवा पर लगभग 100 साल तक राज किया और इसके बाद 1469 में गुलबर्ग के बहामी सुल्तान ने इसे फिर से दिल्ली सल्तनत का हिस्सा बनाया।

सन 1483-84 में गोवा मुस्लिम शासक युशुफ आदिल खान के अधिकार में आ गया।

सन 1510 में पुर्तगाली अलफांसो द अल्बुबर्क ने यहाँ आक्रमण कर अधिकार कर लिया । अल्बुबर्क का आदिल खान से एक और भयंकर युद्ध हुआ था जिसमें पुर्तगालियों ने उसे हरा दिया। गोवा में उन्होंने सभी मुसलमानों का कत्ल कर दिया।

इसके बाद 1961 तक गोवा पर पुर्तगालियों का राज रहा। वो अंग्रेज़ो के अधीन रह कर यहां पर शासन करते थे।

आज़ादी के बाद भारत ने मांग की कि गोवा भारत को सौंप दिया जाए, पर पुर्तगाल इसके लिए तैयार ना हुआ। अंत दिसंबर 1961 में एक सैनिक अभियान चलाया गया और गोवा को भारत में शामिल कर लिया गया।

30 मई, 1987 तक गोवा एक केंद्र शासित प्रदेश था, इसके बाद इसे राज्य का दर्जा दे दिया गया।

Geographic Facts about Goa in Hindi

गोवा राज्य से जुड़े भुगौलिक तथ्य

महज 3702 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल के साथ गोवा भारत का सबसे छोटा राज्य है। आम तौर बड़े राज्यों के जिलो का क्षेत्रफल इतना होता है।

यहां छोटे-बड़े लगभग 40 समुद्री तट है। इनमें से कुछ समुद्र तट अंर्तराष्ट्रीय स्तर के हैं। दो समुंद्री तट तो ऐसे है जहां भारतीयों का जाना ही मना है।

गोवा की सीमा सिर्फ दो राज्यो ले लगती है – महाराष्ट्र और कर्नाटक।

goa ka dudhsagar jharna

गोवा का दूधसागर झरना भारत के सबसे ऊँचे पानी के झरनों में से एक है इसकी ऊँचाई 310 मीटर है। चेन्नई एक्सप्रेस फिल्म का एक सीन यहीं पर फिल्माया गया था।

Comments

  1. praful vidhate

    Reply

  2. Jagdeep prasad

    Reply

  3. Tanveer Hussain

    Reply

  4. HindIndia

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!