डिप्रैशन क्या है? कारण, लक्षण, उपाय और 9 रोचक तथ्य

depression in hindi

अवसाद क्या होता है? What is Depression?

डिप्रैशन जा अवसाद एक मानसिक स्थिती होती है जिसमें व्यक्ति लंबे समय तक नाखुश रहता है। उसकी जिंदगी से रूचि खत्म होने लगती है और रोज़मर्रा के कामकाज़ से मन उचट जाता है।

अवसाद किसे और क्यों होता है?

अवसाद किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकता है और अवसाद होने का कोई स्पष्ट कारण नही है, यह कई मिलेजुले कारणों से होता है। फिर भी इसके कुछ कारण यह माने जाते हैं- किसी नज़दीकी की मौत, आर्थिक परेशानी, नौकरी का चले जाना जा ना मिलना, प्यार में धोखा, शादी का टूटना, लगातार खराब सेहत, बेमन का काम, असफलता आदि।

अवसाद के लक्षण – Symptoms of Depression

1. थोड़ा सा काम करने के बाद थकान महसूस करना।
2. नीद ठीक तरह से ना आना।
3. रात को बार – बार जागना।
4. पीठ में दर्द रहना।
5. चिड़चिड़ापन।
6. काम पर फोकस ना बनना।
7. बात – बात पर गुस्सा करना।
8. किसी बुरी बात के होने का डर रहना (बुरे ख्याल आना)।
9. भोजन ना पचना।
10. सेक्स में अरूचि आदि।

अवसाद से निजात के उपाय – Depression Treatment in Hindi

1. सबसे पहले तो किसी छोटी मोटी परेशानी को लेकर यह वहम नही बनाना चाहिए कि आप अवसादग्रस्त हैं।
2. अपने काम में मन लगाने की कोशिश करे जा मन का काम करें।
3. कुछ समय तक अपनी इच्छाओं को कम कर दें।
4. अपने आपको जरूरी कामों में व्यस्त रखें। सामाजिक, धार्मिक या अन्य कार्यक्रमों में हिस्सा लें।
5. अपने लिए कोई बड़ा लक्ष्य बनाएँ, उसे छोटे- छोटे भागों में बांटे और पूरा करें।
6. अच्छे लोगों में मिलना जुलना बढ़ाएं। ड्रामेंबाज़ और चालाक लोगों से दूर रहें।
7. जो लोग आपको भाव ना दें, उनसे दूर रहें।
8. किसी भी बात के लिए जल्दबाज़ी ना करें और धैर्य रखें।
9. वासना से दूर रहने की कोशिश करें।
10. जिंदगी में किसी चमत्कार होने की सोच ना रखें कि एक दिन कुछ ऐसा होगा और मैं ऐसा बन जाऊँगा। याद रखें बड़ा large छोटे-छोटे smalls से बनता है।
11. हमेशा positive फिल्में देखें।

अवसाद से जुड़े कुछ तथ्य – Depression Facts

1. WHO की रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान समय में लगभग 35 करोड़ लोग अवसाद का शिकार हैं।

2. महिलाएं पुरूषों के मुकाबले अवसाद की शिकार ज्यादा होती हैं।

3. अवसादग्रस्त व्यक्ति को सामान्य से तीन से चार गुणा ज्यादा सपने आते हैं।

4. अवसाद ग्रस्त व्यक्ति जलदी बूढ़ा होने लगता है।

5. रिसर्च में पाया गया है कि हसी-मज़ाक (ड्रामा) करने वाले लोग और कोमेडियन लोग आम लोगों से ज्यादा अवसाद का शिकार होते हैं। भगवान कृष्ण ने भी गीता में कहा है कि अगर कोई व्यक्ति ज्यादा हस्ता है तो उसका मतलब है कि वह अंदर से अकेला है।

6. Depression कोई आजकल की बिमारी नही है, यह सदियों से चली आ रही है, पर 21वीं सदी में इसका प्रभाव पहले से 10 गुणा ज्यादा बढ़ गया है।

7. जो लोग इंटरनेट पर ज्यादा फालतु समय (फेसबुक, वाटस्एप) बिताते है वह अक्सर मानसिक परेशानियों में रहते हैं।

8. अमेरिका के महान राष्ट्रपति अब्राहिम लिंकन जीवन में आए दुखों के कारण लंबे समय तक अवसाद में रहे, इस समय में वो चाकू-छूरों से दूर रहते थे क्योंकि उन्हें लगता था कि वह खुद को इनसे मार ना लें।

9. फ्रांस के लोग सबसे ज्यादा अवसाद ग्रस्त होते है। एक रिसर्च में पाया गया है कि वहां की 20 फीसदी लोग जीवन में कभी ना कभी अवसाद की अवस्था से जरूर गुजरते हैं।

Friends, मुझे उम्मीद है यह लेख आपको अवसाद को समझने में हेल्प करेगा। अगर आपको इस पर कोई विचार रखना हो तो कमेंटस के माध्यम से रख सकते हैं।

जिंदगी में सफल होने के लिए Rochhak.com पर बताए गए Personal Developments Blogs और YouTube Channels को जरूर देखें।

Comments

  1. Karan singh

    Reply

  2. Karan singh

    Reply

  3. onkar nath

    Reply

  4. Vineet

    Reply

  5. shailendra kumar

    Reply

  6. Neha chaturvedi

    Reply

  7. Anonymous

    Reply

  8. Vicky Pawar

    Reply

  9. Blogging tips in Hindi

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!