क़ुतुब मीनार

कुतुब मीनार भारत की राजधानी दिल्ली के दक्षिण में महरौली भाग में स्थित, ईंटों से बनी विश्व की सबसे ऊँची मीनार है। इसकी ऊँचाई 72.5 मीटर जा 237.86 फुट है। ऐसा कहा जाता है कि कुतुबद्दीन ऐबक ने कुतुब मीनार का निर्माण 1193 में शुरू करवाया था। वह केवल पहली मंज़िल ही बना सका था। उसके बाद दिल्ली के सुलतान बने इल्तुतमिश ने इस की तीन मंज़िलों का निर्णाण करवाया। इसके बाद 1368 में फीरोजशाह ने 5वीं और आखरी मंज़िल बनवाई।

इन लिंकस में कुतुबमीनार के बारे में जानकारी दी गई है।

इस लिंक में कुतुबमीनार के बारे में बेहद मज़ेदार तथ्य तथा इसको लेकर हिंदू पक्ष के दावे बताए गए हैं-

हिंदू पक्ष का दावा है कि कुतुबमीनार का वास्तविक नाम विष्णु स्तंभ है जिसे कुतुबदीन ने नहीं बल्कि सम्राट चन्द्रगुप्त विक्रमादित्य के नवरत्नों में से एक और खगोलशास्त्री वराहमिहिर ने बनवाया था। पहले लिक में इस बात को अच्छी तरह से प्रमाणित किया गया है तथा दूसरे में उस समय के इतिहास का संक्षिप्त वर्णन करते हुए विरोधियों द्वारा इस संबंध में अक्सर पूछे जाने वाले सवालों के जवाब दिए गए हैं-

यह youtube video सुदर्शन टीवी न्युज़ चैनल का है। इसमें कुतुबमीनार के विष्णु स्तम्भ होने के ठोस सबूत दिए गए हैं।

इसमें राजस्थान के शहर जोधपुर के मेहरानगढ़ किले के बारे में बताया गया है जो कि 120 मीटर ऊँची एक चट्टान पहाड़ी पर निर्मित है।

इस समाचार में यह बताया गया है कि इस इमारत को भूकंप और आंधी तूफान से हानि पहुँच सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!