” सूरज ” की यह 45 बातें आप नही जानते होंगे ! Sun in Hindi

About Sun in Hindi – सूरज के बारे में जानकारी

sun in hindi

About Sun in Hindi

1. चाहे दिन हो जा रात आप जब भी यह तथ्य पढ़ रहे हो जा कभी भी कुछ कर रहे हो तो सुर्य द्वारा छोड़े गए 10 लाख अरब (1013) न्युट्रान आप के शरीर से गुजर रहे होते हैं।

2. सुर्य मंण्डल का 99.24% वजन सुर्य का है।

3. अगर सु्र्य का आकार एक फुटबाल जितना और बृहस्पति का गोल्फ बाल जितना कर दिया जाए तो धरती का आकार एक मटर से भी कम होगा।

4. प्रकाश सुरज से धरती पर आने के लिए 8 मिनट 17 सैकेंड लेता है।

5. संस्कृत भाषा में सुर्य के कुल 108 नाम हैं।

6. अगर मान ले कि आप सुर्य की सतह पर रहते हैं तो आप को धरती पर आने कि लिए जो रॉकेट त्यार करना होगा उसकी शुरूआती गति 618 किलोमीटर प्रति सैंकेड होनी चाहिए।

7. सूर्य एक गैस का गोला है यह 72% Hydrogen, 26% Helium और 2% Carbon & Oxygen और बाकी का हिस्सा कई भारी तत्वों जैसे ऑक्सीजन, कार्बन, लोहे और नीयोन से बना है।

8. सुर्य की बाहरी सतह का तापमान 5500 डिगरी सेलसीयस है जबकि अंदरूनी भाग का तापमान 1 करोड 31 लाख डिगरी सेलसीयस है।

9. सुर्य भारी मात्रा में सौर वायु उत्पन्न करता है जिसमें इलेक्ट्रॉन और प्रोटान जैसे कण होते है। यह वायु इतनी तेज (लगभग 450 किलोमीटर प्रति सैकेंड) और शक्तिशाली होती है कि इसमें मौजुद इनेक्ट्रॉन और प्रोटान सुर्य के शक्तिशाली गुरूत्व से भी बाहर निकल जाते हैं।

10. धरती जैसे शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र वाले ग्रह ऐसे कणों को धरती के पास पहुँचने से पहले ही मोड़ देते हैं। (ध्यान रहें चुंबकीय क्षेत्र मोड़ता है वायुमंडल नही।)

Sun Eclipse sun history in hindi

सुर्य ग्रहण – Sun Eclipse

11. सुर्य ग्रहण तब होता है जब चाँद, धरती और सुर्य के मध्य आ जाए। यह स्थिती ज्यादा से ज्यादा 20 मिनट तक रहती है।

12. धरती पर हर जगह 360 दिनो में एक बार सुर्य ग्रहण जरूर दिखता है। साल में ज्यादा मे ज्यादा 5 बार ही सुर्य ग्रहण लगता है। सुर्य ग्रहण 7 मिनट 40 सैंकेड तक रहता है मगर संम्पूर्ण सुर्य ग्रहण 20 मिनट तक चलता है।

13. सुर्य की द्रव्यमान (वजन) लगभग 1.989*1030 किलोग्राम है।

14. हर सैकेंड सुर्य में 7 करोड़ टन हाईड्रोजन , 6 करोड़ 95 लाख टन हीलियम में बदलती है और बची 5 लाख टन गामा किरणों में बदल जाती है।

15. हर सैकेड सुर्य का वज़न 50 लाख टन कम हो जाता है।

16. सुर्य के अंदरूनी भाग का दबाब धरती के वायुमंडल के दबाब से 340 अरब गुना ज्यादा है। सुर्य के अंदरूनी भाग की घनता, धरती पर मौजुद पानी की घनता से 150 गुना ज्यादा है।

17. अगर सुर्य के केंद्र से एक पनीर के टुकड़े जितने भाग को धरती की सतह पर रख दिया जाए तो कोई भी चट्टान जा ओर कोई चीज इसे धरती के 150 किलोमीटर अंदर तक घसने से नही रोक सकती ।

18. सुर्य की सतह का क्षेत्रफल धरती के क्षेत्रफल से 11990 गुना ज्यादा है।

19. सुर्य का गुरूत्वार्कष्ण धरती से 28 गुना ज्यादा है। मतलब कि अगर धरती पर आपका वजन 60 किलो है तो सुर्य पर यह 1680 किलो होगा।

20. धरती की तरह सुर्य ठोस नही है। यह सारा का सारा गैसो का बना हुआ है।

21. सुर्य का गुरूत्व इतना शक्तिशाली है कि 6 अरब किलोमीटर दूर स्थित पलुटो ग्रह भी इसके गुरूत्व के कारण अपनी कक्षा में घूम रहा है।

22. अगर कोई वस्तु सूर्य के 20 लाख 22 हज़ार किलोमीटर के दायरे में आती है तो सूर्य उसे अपनी ओर खींच लेगा।

23. प्रकाश सुर्य से प्लुटो तक पहुँचने में 5 घंटे 30 मिनट लेता है।

24. जैसे हमारी धरती अपने धुरे के समक्ष 24 घंटे में एक चक्कर पूरा करती है ऐसे ही सुर्य अपनी धूरे के समक्ष 25 दिन में एक चक्कर पूरा करता है।

25. जबसे सुर्य का जन्म हुआ है इसने सिर्फ 20 बार ही आकाशगंगा का चक्कर काटा है। इसे एक चक्कर पूरा करने में 25 करोड़ साल लग जाते है।

26. सुर्य के एक वर्ग सैंटीमीटर से जितनी उर्जा पैदा होती है इतनी उर्जा 100 वाट के 64 बल्बो को जगाने के लिए काफी होगी।

27. सुर्य की जितनी उर्जा धरती पर पहुँचती है इतनी उर्जा संम्पूर्ण मानवो द्वारा खप्त की उर्जा से 6000 गुना ज्यादा होती है।

28. जितनी उर्जा 30 दिन में धरती को सुर्य द्वारा मिलती है इतनी उर्जा मानवो द्वारा पिछले 40,000 साल से खप्त उर्जा से कहीं ज्यादा है।

29. अगर मान लें कि सुर्य की चमक एक दिन धरती पर न पुँहचे तो धरती कुछ ही घंटो में बर्फ की तरह पूरी तरह से जम जाएगी सारी धरती उत्तरी ओर दक्ष्णी ध्रव जैसी बन जाएगी।

30. नार्वे एकलोता ऐसा क्षेत्र है जहां सुर्य लगातार साढ़े 3 महीने तक चमकता रहता है।

31. 1 अरब 10 लाख साल बाद सुर्य अब से 10 प्रतीशत ज्यादा चमकने लगेगा। धरती का वायुमंडल और इसकी नमी अत्यधिक तापमान के कारण अंतरिक्ष में उड़ जाएगी।

32. अब से 5 अरब साल बाद सुर्य अब से 40 प्रतीशत ज्यादा चमकने लगेगा। सारे सागर , महासागर और नदीयों का पानी जलवासप बन कर अंतरिक्ष में उड़ जाएगें।

33. अब से 5 अरब 40 करोड़ साल बाद सुर्य में सारी हाईड्रोजन खत्म हो जाएगी और यह खत्म होना शुरू हो जाएगा।

sun information in hindi

सामान्य सूर्य और लाल दानव की तुलना

34. अब से 7 अरब 70 करोड़ साल बाद सुर्य लाल दानव का रूप धारण कर लेगा। यह लगभग 200 गुना बड़ा हो जाएगा और बुद्ध ग्रह तक पहुँच जाएगा।

35. 7 अरब 90 करोड़ साल बाद सुर्य एक सफेद बोने में बदल जाएगा तब इसका आकार सिर्फ शुक्र ग्रह के जितना होगा।

36. सूर्य हमारे सोलर सिस्टम की सबसे बड़ी वस्तु है। यह इतना बड़ा है कि इसमें 13 लाख पृथ्वी समा सकती है।

37. आकाशगंगा में 5% ऐसे तारे भी है जो सूरज से ज्यादा बड़े और चमकदार है।

38. सूरज पर मौजूद 7 करोड़ टन Hydrogen, हर सेकंड 6 करोड़ 95 लाख टन Helium और 5 लाख टन Gamma Rays में बदल रही है। सूरज की तेज़ रोशनी का कारण यही है।

39. अगर एक पेंसिल की नोक जितना सूरज पृथ्वी पर आ जाए तो भी 145 किलोमीटर दूर से ही आपकी जलकर मौत हो जाएगी।

40. सूर्य, पृथ्वी से 14 करोड़ 96 लाख किलोमीटर की दूरी पर है। अगर एक चीता आज पृथ्वी से दौड़ना शुरू करे तो उसे सूर्य तक पहुंचने में 151 साल लग जाएगे। चीते की रफ्तार लगभग 120 किलोमीटर प्रतिघंटा होती है।

41. एक बंदूक की गोली की औसत गति 1,126 फीट प्रति सैकेंड होती है। अगर यह गोली सूरज की तरफ मारी जाए तो इसे वहाँ तक पहुंचने में 14 साल लग जाएगे।

42. अगर सूर्य की एक घंटे की सारी energy को सोलर पैनलों के सहारे बिजली में बदल लिया जाए तो यह दुनिया की एक साल की बिजली की खपत के बराबर होगी।

43. हर सैकेंड सूर्य से एक ख़रब परमाणु बमों जितनी शक्ति निकल रही है।

44. सूर्य के अंदर nuclear fusion क्रिया होती है ये बिल्कुल हाईड्रोज़न बंब फटने पर होने वाली क्रिया जैसी है।

45. सूर्य का असली रंग सफेद है इसके वातावरण की वजह से ये पीला दिखाई पड़ता है।

More Science Facts in Hindi

Tags : about sun in Hindi, sun history in Hindi, sun information in Hindi

Comments

  1. Sanny

    Reply

    • Reply

  2. shashi

    Reply

    • Reply

  3. Ajeet kushwaha

    Reply

    • Reply

  4. Ankit kumar

    Reply

    • Reply

  5. shashikant

    Reply

  6. Mahesh Maravi

    Reply

  7. shashikant

    Reply

  8. shashi

    Reply

    • Reply

  9. Vicky rana

    Reply

    • Reply

  10. shashikant

    Reply

    • Reply

  11. anmol chaudhary

    Reply

    • Reply

    • abhishek dadhich

      Reply

  12. Dulal Krishna

    Reply

    • Reply

      • Md Alamgir Ansari

        Reply

        • Reply

    • anmol chaudhary

      Reply

  13. Raghvendra Vishwakarma

    Reply

    • Reply

  14. Manoj Baghel jehalpur

    Reply

  15. Munna Kumar

    Reply

    • Reply

    • utsav

      Reply

  16. dilshad shaikh

    Reply

  17. devi lal

    Reply

    • Reply

  18. Reply

    • Reply

      • Diwakar pratap singh

        Reply

        • Reply

      • Shobha Devi

        Reply

        • Reply

  19. Abhi

    Reply

    • Reply

  20. Ramashish mahato

    Reply

  21. Dhiraj Yadav

    Reply

    • Reply

      • Swapnil Elame

        Reply

      • Ajeet kushwaha

        Reply

      • Ajeet kushwaha

        Reply

  22. prakash

    Reply

  23. hemant kumar

    Reply

    • Reply

  24. दीपक

    Reply

    • Reply

    • sushmita

      Reply

  25. adil

    Reply

  26. radadiya abhishek

    Reply

  27. aarif

    Reply

    • Reply

  28. pavan rajpoot

    Reply

  29. Vipin

    Reply

    • Reply

      • Diwakar pratap singh

        Reply

        • Diwakar pratap singh

          Reply

        • Reply

  30. ajay

    Reply

  31. मनोज वैरागी

    Reply

    • shravan prajapti

      Reply

  32. Vineet jatt

    Reply

    • Ajeet kushwaha

      Reply

  33. malkir

    Reply

  34. Ratan lal ram

    Reply

    • Reply

  35. Reply

    • Reply

  36. gaurav yadav

    Reply

  37. Ashwani Yadav

    Reply

    • Reply

      • Anonymous

        Reply

      • S.Sahay

        Reply

        • Reply

          • पीयूष

  38. Nsb

    Reply

  39. jitu sing

    Reply

    • Reply

      • Nk

        Reply

        • Reply

          • Mohd Aneesh

    • sonu

      Reply

  40. Reply

  41. naim khan

    Reply

    • Manojkumar

      Reply

  42. Vineet jatt

    Reply

    • Reply

  43. Reply

  44. Balkar

    Reply

  45. बेनामी

    Reply

    • Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!